जानिए ये तीन कबड्डी स्टार खिलाड़ी डिफेंडर से रेडर कैसे बने | Kabaddi Facts

कबड्डी अब बहुत ही लोकप्रिय खेल बन चूका हैं। भारतीय कबड्डी में कुछ ऐसे खिलाड़ी जिन्होंने अपने करियर की सुरवात एक डिफेंडर के तौर पर की थी लेकिन वक्त ने उन्हें एक बेहतरीन रेडर बना दिया। आज वे खिलाडी बहुत ही सफल रेडर है। 

#3 दीपक निवास हुड़ा (Deepak Niwas Hooda)
दीपक निवास हुड़ा भारतीय कबड्डी टीम के कप्तान है। दीपक टीम में एक ऑल राउंडर के तौर पर खेलते है। कबड्डी 360 को दिए इंटरव्यू में दीपक ने बताया की उन्होंने अपने कबड्डी करियर की सुरवात एक लेफ्ट कवर डिफेंडर के तौर पर की थी। लेकिन दीपक ने कहा उन्हें मेहनत करना अच्छा लगता है और उन्होंने जल्दी है अपने आप को डिफेंडर से रेडर में तब्दील कर लिया। दीपक ने साउथ एशियाई ख़ेल 2019 में भारत की कप्तानी की थी और भारत को गोल्ड मैडल जितवाया था। 
# राहुल चौधरी (Rahul Chaudhari)
राहुल चौधरी ने बताया की उन्होंने अपने कबड्डी करियर की सुरवात एक राइट कॉर्नर डिफेंडर की तौर पर की थी। जब प्रैक्टिस के वक्त रनिंग करते थे तो कोच ने उन्हें हैंड टच और बाकी रेडर की स्किल्स सिखाई फिर राहुल डिफेंडर से रेडर बन गए। आज राहुल चौधरी भारतीय कबड्डी में एक बोहोत ही सफल रेडर है। राहुल चौधरी कबड्डी वर्ल्ड कप 2016 में भारतीय टीम का हिस्सा रहे है। 

#1 अजय ठाकुर (Ajay Thakur)

अजय ठाकुर एक बहुत ही सफल कबड्डी खिलाडी है उन्होंने बहुत सारे अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता में भारत का प्रतिनिधत्व किया है। अजय ठाकुर ने अपने करियर की सुरवात एक राइट कॉर्नर डिफेंडर के तौर पर की थी। अजय ने एक इंटरव्यू में बताया की एक प्रतियोगिता में उनकी टीम हार रही थी तब कोच ने उन्हें रेड करने को कहा और अजय पकडे ही नहीं गए और फिर कोच ने उन्हें रेडर बनने की सलाह दी फिर अजय ठाकुर ने अपने आप को एक डिफेंडर से रेडर में तब्दील कर लिया। अजय ठाकुर भारतीय टीम के कप्तान भी रह चुके है। उन्हें भारत सरकार ने अर्जुन पुरस्कार और पदम् श्री पुरस्कार से भी सन्मानित किया है।

Stay Connected of Viral Vo Sports For Pro Kabaddi League 2020 News And Updates